LT Grade Teacher Uttar Pradesh, L T Grade Teacher Recruitment in GIC / GGIC

 प्रदेश में होनी है 6 हजार शिक्षकों की भर्ती

 लखनऊ। राजकीय इंटर कॉलेजों में होने वाली एलटी ग्रेड भर्तियों में अब परास्नातक अभ्यर्थियों को अतिरिक्त लाभ नहीं मिलेगा। सरकार ने इन भर्तियों में पीजी के अंकों का वेटेज खत्म करने की तैयारी कर ली है। नए संशोधन के मुताबिक अब केवल हाईस्कूल, इंटर और स्नातक के अंकों के आधार पर ही मेरिट तैयार की जाएगी।
नियमावली में इस नए संशोधन को शिक्षा विभाग ने सहमति दे दी है। जल्द ही कैबिनेट बैठक में इस संशोधन प्रस्ताव को रखा जाएगा। हाईस्कूल तक के बच्चों को पढ़ाने के लिए प्रदेश में लगभग 6000 भर्तियां होनी हैं। इनमें पुरुष और महिलाओं के लिए आधे-आधे पद हैं।


इन पदों के लिए शैक्षिक अर्हता स्नातक थी। जो परास्नातक होते थे उन्हें 15 अंकों का अतिरिक्त वेटेज दिया जाता था। इस पर भी आपत्ति यह उठती रही है कि कई अभ्यर्थी जिस विषय के अध्यापक के लिए आवेदन करते थे उसमें पीजी नहीं होते। दूसरे विषय में पीजी होने पर भी उन्हें अतिरिक्त अंकों का लाभ मिल जाता था। उसका कोई लाभ स्टूडेंट्स को नहीं मिलता था। इस पर कई मामले कोर्ट में भी लंबित हैं। इसी को देखते हुए नियमावली में संशोधन की बात शासन ने कही थी। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने यह संशोधन प्रस्ताव शासन को भेज दिया। शासन स्तर पर भी इस पर सहमति बन गई है। अब कार्मिक विभाग की सहमति के बाद इसे कैबिनेट बैठक में रखा जाएगा।

 News Sabhaar : amarujala (12.9.13)
*************************************
previous recruitment of LT Grade teacher, Criteria of PG marks is not clear.

 And M.A = M. Com = M.Sc = M. Lib etc happens.

 For example LT Grade Mathematics Teacher recruitment, Weightage of marks in such a way

M. Sc. Mathematics = M. A (Political Science , Economics)

Now extra marks/weightage of PG degree is going to remove.

 However it is bad for those who did PG in Same Subject in which vacancies are advertised and are deserving to teach their specialized subject
 
Top