CTET 2015 EXAM NOTES IN HINDI MEDIUM


कम्प्यूटर की सहायता द्वारा अनुदेशन : Computer Assisted Instruction (CAI)

कम्प्यूटर को शैक्षिक तकनीकी प्रथम या हार्डवेयर उपागम में ही सम्मिलित किया जाता है। यह स्वतः अनुदेशनात्मक पद्धति का एक उपकरण है जिसका प्रयोग व्यक्तिगत अनुदेशन के लिये किया जाता है। कम्प्यूटर ने व्यापार, उद्योग, तथा शासन प्रणाली को अधिक प्रभावित किया है परन्तु इसका प्रभाव विद्यालय तथा शिक्षा प्रणाली पर भी स्पष्ट दिखाई देता है। 

शिक्षण के क्षेत्र में अनुदेशन पद्धति, शोध कार्यो तथा परीक्षा प्रणाली को कम्प्यूटर ने अधिक प्रभावित किया है।
कम्प्यूटर को विद्युत मस्तिष्क भी कहते हैं। यद्यपि अन्य शिक्षण-मशीनों में पाठ्यवस्तु को छोटे-छोटे पदों में क्रमबद्ध रूप में प्रस्तुत किया जाता है परन्तु इन मशीनों को कोई निर्णय नहीं लेना पड़ता जबकि कम्प्यूटर को पूर्वव्यवहारों के आधार पर अनुकूल अनुदेशनों का चयन करना पड़ता है। यह निर्णय कम्प्यूटर द्वारा ही लिया जाता है। इसलिये इसे विद्युत मस्तिष्क कहते हैं।

कम्प्यूटर की सहायता द्वारा अनुदेशन : Computer Assisted Instruction (CAI), सीटीईटी हिंदी नोट्स, Best Free CTET Exam Notes, Teaching Of pedagogoy Notes, CTET 2015 Exam Notes, ctet Study Material in hindi medium, CTET PDF NOTES DOWNLOAD,  PEDAGOGY Notes,

कम्प्यूटर की संरचना

कम्प्यूटर को शैक्षिक तकनीकी प्रथम या हार्डवेयर उपागम में सम्मिलित किया जाता है यह स्वतः अनुदेशनात्मक पद्धति का एक उपकरण जिसका प्रयोग व्यक्तिगत अनुदेशन के लिये किया जाता है। कम्प्यूटर ने व्यापार, उद्योग तथा शासन प्रणाली को ही नहीं विद्यालय व शिक्षा प्रणाली को भी पूर्व व्यवहारों के आधार पर अनुकूल अनुदेशनों का चयन करना पडता है यह निर्णय कम्प्यूटर द्वारा लिया जाता है इस लिये इस विद्युत मस्तिष्क भी कहते है। संरचना-एक या एक अधिक लक्ष्यों को हासिल करने के लिये कार्यरत इकाईयों के समूह को प्रणाली या सिस्टम्स कहते है इसी प्रकार कम्प्यूटर भी एक सिस्टम के रूप में कार्य करता है जिसके निम्नलिखित भाग या ईकाईया होती है-

1. हार्डवेयर - कम्प्यूटर के यांत्रिक, वैद्युत तथा इलेक्ट्रोनिक भाग कम्प्यूटर हार्डवेयर कहलाते है।

2. साफ्टवेयर - ये वह प्रोग्राम है जो कम्प्यूअर को यह निर्देश देता है किस प्रकार डाटा को प्रोसेसिंग की जाये और आवश्यक सूचना और परिणाम जनित लिये जाते है।

3. कम्प्यूटर यूजर - वे लोग जो कम्प्यूटरीकृत डाटा तैयार कहते है, प्रोग्राम लिखते है, कम्प्यूटर यूजर कहलाते है।

कम्प्यूटर के पांच बुनियादी भाग होते है -

1. अदा उपकरण - अदा उपकरण सूचना को कम्प्यूटर भाषा में अनुवादित करता है।
2. प्रदा उपकरण - प्रदा उपकरण कम्प्यूटर भाषा में अनुवादित सूचना को फिर से सामान्य प्रचलित भाषा में परिवर्तित कर देता है।
3. स्मृति संग्रह - स्मृति संग्रह में वह सभी सूचना संग्रहीत होती है जो अदा उपकरण द्वारा कम्प्यूटर में भरी जाती है।
4. प्रक्रिया इकाई - प्रक्रिया इकाई संधित सूचनाओं की व्यवस्था करती है। इसमें जोडने शेष निकालने तथा गुणा करने की क्षमता होती है। यह संचित सूचना में किसी विशेष सूचना का वैज्ञानिक मानदण्ड के अनुसार चयन करने की क्षमता रखती है।
5. नियन्त्रण इकाई - यह अभिसंचित कार्यक्रम की क्रियाओं का नियत्रंण करती है।

कम्प्यूटर के प्रमुख कार्य (Main Functions of Computer)

कम्प्यूटर अनुदेशन तथा शिक्षण में निम्नलिखित कार्य करता है:-
1. कार्डो पर सूचनाओं को संचित करता है। चुम्बकीय टेप तथा टेप पर सूचनाओं को संचित करता है।
2. अनुदेशन सामग्री को भी संचित करता है। एक ही प्रकरण पर 32 प्रकार की अनुदेशन सामग्री रखता है जिससे 32 तरह की व्यक्तिगत सुविधा प्रदान की जाती है।
3. संचित सूचनाओं में से अपेक्षित प्रदत्तों का चयन करता है।
4. विद्युत टंकन मशीन की सहायता से सूचनाओं का सम्प्रेषण करता है।

कम्प्यूटर तथा शिक्षण-प्रक्रिया (Computer and Teaching Process)

शिक्षण प्रक्रिया में कम्प्यूटर के उपयोग व कार्य

कम्प्यूटर का उपयोग (Uses of Computer)

नोटआपको हमारी पोस्ट कैसी लगीकृपया कमेंट करके ज़रूर बताए  

Post a Comment Blogger

 
Top