सामाजिक अध्ययन के उद्देश्य निम्नलिखित हैं:-


1. व्यक्तित्व का सर्वागीण विकास (Al-round Development of Personality)
सामाजिक अध्ययन विषय का उद्देश्य बच्चों का सर्वागीण विकास करना है। मानव ने इस सृष्टि पर जीवन कैसे आरम्भ किया, उसका भौतिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक वातावरण क्या था। इसका ज्ञान बालकों को देना आवश्यक है, क्योंकि तभी उन्हें अपने अस्तित्व की जानकारी प्राप्त होगी। बच्चों को यह जानकारी देनी आवश्यक है कि भिन्न-भिन्न प्रकार की संस्थाओं का जन्म कैसे हुआ।
 

नोटआपको हमारी पोस्ट कैसी लगीकृपया कमेंट करके ज़रूर बताए  

Post a Comment Blogger

 
Top