NCERT Solutions for Class 8th: पाठ  9 - एक खिलाड़ी की कुछ यादें (संस्मरण) हिंदी दूर्वा भाग- III 

- केशवदत्त

पृष्ठ संख्या: 62

1. पाठ से

(क) लेखक बैडमिंटन चैंपियन था। उसे हॉकी खेलने की प्रेरणा किससे और कैसे मिली?

उत्तर

लेखक बैडमिंटन के चैंपियन थे परन्तु एक दिन उन्होंने स्कूल ग्राउंड में ध्यानचंद को हॉकी खेलते देखा और उनसे प्रेरित होकर हॉकी खेलने लगे।

(ख) इंग्लैंड से मैच जीतने के बाद सबकी आँखों में आँसू क्यों थे?

उत्तर

उस समय भारत  को आजाद हुए कुछ ही दिन हुए थे, इंग्लैंड पर जीत सिर्फ खेल में ही जीत नही थी बल्कि पूर्व गुलाम की अपने क्रूर शासक के ऊपर जीत थी। जिन्होंने हम पर कई वर्षों तक शासन किया उसे उसी के घर में जाकर हराना मानसिक तौर पर गर्व का काम था इसलिए सबकी आँखों में आँसू थे।

(ग) 'खिलाड़ियों में जज़्बा ज़रूरी है।' लेखक ने किस जज़्बे की बात की है? यह जज़्बा क्यों ज़रूरी है?

उत्तर

खिलाड़ियों में खेलने की भावना प्रबल होनी आवश्यक है क्योंकि बिना प्रबल इच्छा के वह खेल नहीं पाएगा और खेल का स्तर गिर जाएगा।

2. याद रखना
"60 साल की बात करने से पहले मैं कुछ साल और पीछे जाना चाहता हूँ। लाहौर को याद करना चाहता हूँ।" 
ऊपर के वाक्यों को पढ़ो और बताओ कि– 
(क) लेखक 60 साल की बात करने के लिए क्या चाहता है?
(ख) तुम्हें अगर अपने तीन साल के हिंदी सीखने की बात को कहने को कहा जाए तो उसके लिए क्या-क्या करोगे?
(ग) क्या पिछली किसी बात को याद करने कि लिए बार-बार रटना ज़रूरी होता है या सोच-समझ के साथ उस पर चर्चा, विचार और उसका आवश्यकतानुसार व्यवहार करना ज़रूरी होता है? तुम्हें जो भी उचित लगे उसे कारण सहित बताओ।

उत्तर

(क) लेखक 60 साल की बात करने के लिए कुछ साल पीछे जाना चाहता है।

(ख) हम भी तीन साल पहले की हिन्दी को याद करेंगे। हिंदी सीखने के लिए सबसे पहले हमें हिंदी भाषा के वर्णों को लिखना सिखाया गया। फिर हमने इसे याद कर लिया। इसके बाद हमने हिंदी की मात्राएँ सीखीं। इसे सीखने के बाद हमें हिंदी पढ़ना व बोलना आ गया।

(ग) पिछली किसी बात को रटा तो नहीं जाता परन्तु यदि उसके संदर्भ में की गई बात कहनी होती है तो उसे याद ज़रूर किया जाता है क्योंकि उसकी याद किए बिना हम उसे पूरी तरह नहीं बता सकते। किसी विषय पर सोच-विचार करने से उस विषय को हम हमेशा के लिए याद कर सकते हैं। इसके बाद हम उसे नहीं भूलते।

पृष्ठ संख्या: 63

5. खेल-कूद

नीचे कुछ खेलों के नाम दिए गए हैं। इन्हें खेलने के लिए किन-किन चीज़ों की ज़रूरत होती है, उसकी सूची बनाओ।

(क)
हॉकी
........................
(ख)
क्रिकेट
........................
(ग)
लॉन टेनिस
........................
(घ)
तैराकी
........................
(ङ)
तीरंदाज़ी
........................
(च)
कबड्डी
........................

उत्तर
(क)
हॉकी
हॉकी स्टिक, बॉल, 9 खिलाड़ी, मैदान
(ख)
क्रिकेट
बैट, बॉल, 3 स्टिक और उनपर रखी गिल्ली, मैदान, खिलाड़ी
(ग)
लॉन टेनिस
नेट, टेनिस रैकेट, बॉल (किरमिच), टेनिस प्ले ग्रांऊड
(घ)
तैराकी
स्वीमिंग ड्रेस, स्वीमिंग पुल
(ङ)
तीरंदाज़ी
धनुष, तीर (आजकल आधुनिक बन गए हैं), टारगेट
(च)
कबड्डी
खिलाड़ी, मैदान

पृष्ठ संख्या: 64

6. पता लगाओ

(क) क्रिकेट, फुटबॉल और हॉकी के मैदान में क्या अंतर होता है?
► क्रिकेट में पूरा मैदान घेरा जाता है। बीच में पिच होती है। हॉकी में नाप कर मैदान घेरा जाता है। दोनों ओर गोल कीपर होते हैं। फुटबॉल में छोटा ही मैदान होता है। बीच में नेट होता है। दोनों ओर नाप कर रेखाएँ खींच दी जाती है।
(ख) क्रिकेट, फुटबॉल और हॉकी में कितने-कितने खिलाड़ी होते हैं?
► क्रिकेट में 12 खिलाड़ी होते हैं, जिसमें से 11 खेलते हैं। फुटबॉल में 11 खिलाड़ी होते हैं। हॉकी में 9 खिलाड़ी होते हैं।

(ग) हॉकी से जुड़े शब्दों की सूची बनाओ।
► स्टिक, डी, गोलकीपर, पेलन्टी कार्नर, पुश, स्कूप।

9. जगह-जगह के खेल

कुछ खेल कुछ खास जगहों में ही खेले जा सकते हैं और कुछ खेल प्रचलन के कारण कुछ खास लोगों द्वारा ही खास स्थानों पर खेले जाते हैं। बताओ कि–

(क) कौन-से खेल अंदर खेले जाते हैं?
► कैरम, टेबिल टेनिस, बैडमिंटन, शतंरज आदि।

(ख) कौन-से खेल बाहर खेले जाते हैं?
► क्रिकेट, हॉकी, लान टेनिस, फुटबॉल, बास्केट बॉल, कबड्डी, दौड़ आदि।

(ग) कौन-से खेल अकेले खेले जाते हैं?
► तैराकी, भार उठाना, मलखम्म, कम्प्यूटर गेम आदि।

Post a Comment Blogger

 
Top